RSS

बस इतना याद रहे …….. एक साथी और भी था ||

25 जुलाई
खामोश है जो यह वो सदा है, वो जो नहीं है वो कह रहा है ,
साथी यु तुम को मिले जीत ही जीत सदा |
बस इतना याद रहे …….. एक साथी और भी था ||


जाओ जो लौट के तुम, घर हो खुशी से भरा,
बस इतना याद रहे …….. एक साथी और भी था ||


कल पर्वतो पे कही बरसी थी जब गोलियां ,
हम लोग थे साथ में और हौसले थे जवां |
अब तक चट्टानों पे है अपने लहू के निशां ,
साथी मुबारक तुम्हे यह जश्न हो जीत का ,
बस इतना याद रहे …….. एक साथी और भी था ||


कल तुम से बिछडी हुयी ममता जो फ़िर से मिले ,
कल फूल चहेरा कोई जब मिल के तुम से खिले ,
पाओ तुम इतनी खुशी , मिट जाए सारे गिले,
है प्यार जिन से तुम्हे , साथ रहे वो सदा ,
बस इतना याद रहे …….. एक साथी और भी था ||

जब अमन की बासुरी गूजे गगन के तले,
जब दोस्ती का दिया इन सरहद पे जले ,
जब भूल के दुश्मनी लग जाए कोई गले ,
जब सारे इंसानों का एक ही हो काफिला ,
बस इतना याद रहे …….. एक साथी और भी था ||

बस इतना याद रहे …….. एक साथी और भी था ||


– जावेद अख्तर 
सभी मैनपुरी वासीयों की ओर से कारगिल युद्ध के सभी अमर शहीदों को शत शत नमन !
Advertisements
 
5 टिप्पणियाँ

Posted by on जुलाई 25, 2011 in बिना श्रेणी

 

5 responses to “बस इतना याद रहे …….. एक साथी और भी था ||

  1. प्रवीण पाण्डेय

    जुलाई 25, 2011 at 7:20 पूर्वाह्न

    श्रद्धांजलि रणबांकुरों को।

     
  2. चला बिहारी ब्लॉगर बनने

    जुलाई 25, 2011 at 8:18 अपराह्न

    मौन श्रद्धांजलि!!

     
  3. Babli

    जुलाई 27, 2011 at 9:57 पूर्वाह्न

    कल तुम से बिछडी हुयी ममता जो फ़िर से मिले ,
    कल फूल चहेरा कोई जब मिल के तुम से खिले ,
    पाओ तुम इतनी खुशी , मिट जाए सारे गिले,
    है प्यार जिन से तुम्हे , साथ रहे वो सदा ,
    बस इतना याद रहे …….. एक साथी और भी था ||
    भावपूर्ण पंक्तियाँ! श्रद्धांजलि !

     
  4. कविता रावत

    जुलाई 31, 2011 at 10:07 पूर्वाह्न

    bahut badiya geet..
    Shahidon ko hamara bhi ashurupurn naman!
    Saarthak prastuti ke liye aabhar!

     
  5. कविता रावत

    जुलाई 31, 2011 at 10:09 पूर्वाह्न

    bahut badiya geet…
    Amar veer shahidon ko hamari or se bhi ashurupurn shrdhanjali..
    Saarthak prastuti ke liye aabhar!

     

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: