RSS

रेलवे ने लांच की एम-टिकट सुविधा

10 जुलाई
रेलवे की ई-टिकट सुविधा मुसाफिरों को आरक्षण काउंटरों की लंबी लाइनों से पहले ही मुक्ति दिला चुकी है। अब आपको सफर के दौरान ई-टिकट का प्रिंट-आउट लेकर भी नहीं चलना पड़ेगा। यात्री अपना ई-टिकट मोबाइल पर ही एसएमएस के जरिये प्राप्त कर सकते हैं। रेलवे की इस नई सुविधा को ‘एम-टिकट’ नाम दिया गया है।
मोबाइल फोन आधारित यह टिकट बुकिंग प्रणाली यात्री को मोबाइल के जरिये टिकट बुक कराने और एसएमएस के जरिये अपने फोन पर ही टिकट प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करती है। रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को कोलकाता में कहा, ‘मुसाफिरों को अब अपने टिकट का प्रिंट आउट लेकर चलने की जरूरत नहीं है। टिकट मांगे जाने पर उन्हें सिर्फ एसएमएस दिखाना होगा।’ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और पूर्व रेल मंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को कोलकाता में यह सुविधा लांच की।

अधिकारी ने बताया कि इंटरनेट के जरिये भारतीय रेलवे की नई वेबसाइट से इस मोबाइल टिकटिंग एप्लीकेशन को अपने मोबाइल पर डाउनलोड किया जा सकता है। रेलवे ने अपनी वेबसाइट ‘डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट इंडियनरेलवेज डॉट जीओवी डॉट इन’ को नए कलेवर में पेश कर यात्रियों को तमाम सेवाएं व सूचनाएं एक ही जगह पर उपलब्ध कराने की कोशिश की है। अब उक्त वेबसाइट से ई-टिकट भी बुक कराया जा सकेगा। अभी तक रेल ई-टिकट सिर्फ इंडियन रेलवेज कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन [आइआरसीटीसी] की वेबसाइट से ही बुक कराया जा सकता था। रेलवे की वेबसाइट पर ई-टिकट बुक कराने की सुविधा प्रतिदिन देर रात 12.30 से रात 11.30 बजे तक उपलब्ध रहेगी।
शुभ यात्रा कार्ड से किराए पर छूट
नियमित यात्रियों को बेहतर सुविधा प्रदान करने के लिए आइआरसीटीसी ने शुभ यात्रा कार्ड लांच किया है। इस सुविधा के तहत नामांकन कराने वाले यात्रियों को उनके द्वारा जुटाए गए अंकों के आधार पर किराए में छूट मिलेगी। हर यात्रा पर कुछ अंक मिलेंगे। इसका सदस्यता शुल्क पांच सौ रुपये सालाना है।
Advertisements
 
11 टिप्पणियाँ

Posted by on जुलाई 10, 2011 in बिना श्रेणी

 

11 responses to “रेलवे ने लांच की एम-टिकट सुविधा

  1. सम्वेदना के स्वर

    जुलाई 10, 2011 at 2:20 अपराह्न

    देखें कितना सफल होती है यह योजना..

     
  2. दिगम्बर नासवा

    जुलाई 10, 2011 at 2:37 अपराह्न

    एक नई शुरुआत … चलो अब आई टी वालों को नया काम मिलेगा इसके तोड़ निकाने का …

     
  3. ब्लॉ.ललित शर्मा

    जुलाई 10, 2011 at 2:39 अपराह्न

    फ़्लाईट वालो ने यह सुविधा पहले ही निकाल रखी थी। अब रेल्वे द्वारा यह सुविधा प्रदान करने से यात्रा करने में सहुलियत होगी।

    अच्छी जानकारी के लिए आभार

     
  4. डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण)

    जुलाई 10, 2011 at 6:51 अपराह्न

    अच्छी जानकारी!

     
  5. सतीश सक्सेना

    जुलाई 10, 2011 at 8:04 अपराह्न

    यह अच्छी खबर है…शुभकामनायें !

     
  6. मनोज कुमार

    जुलाई 10, 2011 at 8:26 अपराह्न

    यह बहुत ही क्रांतिकारी क़दम है। कई बार प्रिंटर की सुविधा नहीं रहने के कारण बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता था।

     
  7. ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ (Zakir Ali 'Rajnish')

    जुलाई 11, 2011 at 11:07 पूर्वाह्न

    काबिले तारीफ सुविधा। अब ट्राई करना पडेगा।

    ——
    TOP HINDI BLOGS !

     
  8. संजय भास्कर

    जुलाई 11, 2011 at 7:48 अपराह्न

    अच्छी जानकारी के लिए आभार

     
  9. संजय भास्कर

    जुलाई 11, 2011 at 7:51 अपराह्न

    नई शुरुआत अच्छी खबर है

     
  10. प्रवीण पाण्डेय

    जुलाई 12, 2011 at 7:10 पूर्वाह्न

    मोबाइल का आधार आवश्यक था।

     
  11. anshumala

    जुलाई 12, 2011 at 11:54 अपराह्न

    काहे की अच्छी खबर जरा नेट से टिकट बुक करके तो दिखाइये सीजन में तब कोई फायदा हो सारा रेलवे दलालों के हाथ बिका पड़ा है टिकट के लिए तीन महीने पहले से मरा मारी शुरू हो जाता है |

     

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: