RSS

जहां बसे हैं भारतीय, वहां होती है दीप पर्व की रौनक

05 नवम्बर

दीपों की जगमगाहट से अमावस्या की काली रात को जगमग करने वाले दीप पर्व दीवाली की धूम सिर्फ भारत में ही नहीं, बल्कि दुनिया के हर उस देश में होती है, जहां भारतीय बसे हैं।

भारत के पड़ोसी हिमालई देश नेपाल में दीवाली को ‘तिहार’ या ‘स्वान्ति’ कहा जाता है। यहां अक्टूबर या नवंबर माह में यह पर्व पांच दिन तक मनाया जाता है और इसकी परंपराएं काफी हद तक वैसी ही हैं जैसी भारत में हैं। नेपाल में पांच दिन के तिहार में पहले दिन कौवे को दूत मानते हुए उसके लिए दाना खिलाया जाता है। दूसरे दिन कुत्ते की, वफादारी के लिए पूजा की जाती है। तीसरे दिन लक्ष्मी पूजा होती है। इस दिन गाय की भी पूजा की जाती है। यह नेपाली संवत का अंतिम दिन होता है इसलिए कारोबारी इसे खूब धूमधाम से मनाते हैं।

चौथे दिन नव वर्ष मनाया जाता है। इस दिन ‘महा पूजा’ होती है और ईश्वर से अच्छे स्वास्थ्य की कामना की जाती है। पांचवे दिन भाई टीका होता है, जिस दिन बहनें भाइयों की लंबी उम्र की कामन कर उसे टीका लगाती हैं।

मलेशिया में दीवाली को ‘हरी दीवाली’ कहा जाता है। वहां हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, साल के सातवें माह में दीवाली मनाई जाती है। इस दिन यहां सार्वजनिक अवकाश रहता है। यहां की परंपराए भी भारत जैसी ही होती हैं। सिंगापुर में परंपरागत भारतीय तरीके से ‘दीपावली’ मनाई जाती है। इस अवसर पर ‘द हिन्दू एंडाउमेंट बोर्ड आफ सिंगापुर’ सरकार के साथ मिल कर कई सांस्कृतिक आयोजन करता है।

श्रीलंका में तमिल समुदाय पूरे उत्साह से दीपावली मनाता है। सुबह सवेरे लोग स्नान कर लेते हैं। घरों के आगे रंगोली सजाई जाती है। शाम को घरों में रोशनी की जाती है और दिए जलाए जाते हैं। इसके बाद पूजा होती है और लोग एक दूसरे को मिठाई खिला कर शुभकामनाएं देते हैं। आतिशबाजी छोड़ी जाती है।

त्रिनिदाद और टोबैगो में भारतीय समुदाय के लोग दीवाली को उसी तरह मनाते हैं जिस तरह यह पर्व भारत में मनाया जाता है। न्यूजीलैंड में एशियाई मूल के लोग धूमधाम से दीवाली मनाते हैं। मुख्य आयोजन आकलैंड और वेलिंगटन में होता है। वर्ष 2003 से न्यूजीलैंड की संसद में दीवाली पर एक आधिकारिक समारोह आयोजित किया जाता है।

अमेरिका में भारतीय आबादी के बढ़ने के साथ ही दीवाली का महत्व भी बढ़ता गया। व्हाइट हाउस में पहली बार साल 2003 में दीवाली मनाई गई थी। वर्ष 2007 में कांग्रेस ने इसे आधिकारिक पर्व का दर्जा दे दिया। 2009 में व्हाइट हाउस में बराक ओबामा दीवाली में निजी तौर पर भाग लेने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बन गए।

वर्ष 2009 में भारत की तरह अमेरिका में भी काउबाय स्टेडियम में दीवाली मेला आयोजित किया गया था जिसमें करीब एक लाख लोग आए थे। इसी साल सैन अन्तोनिया आधिकारिक दीवाली महोत्सव का आयोजन करने वाला पहला अमेरिकी शहर बन गया।

आस्ट्रेलिया, कनाडा, फिजी, सूरीनाम, गुयाना, इंडोनेशिया, जापान, केन्या, मारिशस, म्यामां, दक्षिण अफ्रीका, तंजानिया, थाईलैंड आदि में भी भारतीय मूल के लोग धूमधाम से दीवाली मनाते हैं।

Advertisements
 
14 टिप्पणियाँ

Posted by on नवम्बर 5, 2010 in बिना श्रेणी

 

14 responses to “जहां बसे हैं भारतीय, वहां होती है दीप पर्व की रौनक

  1. ललित शर्मा

    नवम्बर 5, 2010 at 1:09 अपराह्न

    दीपावली की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं !

     
  2. डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण)

    नवम्बर 5, 2010 at 2:04 अपराह्न

    प्रेम से करना “गजानन-लक्ष्मी” आराधना।
    आज होनी चाहिए “माँ शारदे” की साधना।।

    अपने मन में इक दिया नन्हा जलाना ज्ञान का।
    उर से सारा तम हटाना, आज सब अज्ञान का।।

    आप खुशियों से धरा को जगमगाएँ!
    दीप-उत्सव पर बहुत शुभ-कामनाएँ!!

     
  3. सतीश सक्सेना

    नवम्बर 5, 2010 at 3:08 अपराह्न

    मंगल कामनाओं सहित

     
  4. राज भाटिय़ा

    नवम्बर 5, 2010 at 9:42 अपराह्न

    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं

     
  5. संगीता पुरी

    नवम्बर 6, 2010 at 12:15 पूर्वाह्न

    दीपावली का ये पावन त्‍यौहार,
    जीवन में लाए खुशियां अपार।
    लक्ष्‍मी जी विराजें आपके द्वार,
    शुभकामनाएं हमारी करें स्‍वीकार।।

     
  6. संगीता पुरी

    नवम्बर 6, 2010 at 12:16 पूर्वाह्न

    दीपावली का ये पावन त्‍यौहार,
    जीवन में लाए खुशियां अपार।
    लक्ष्‍मी जी विराजें आपके द्वार,
    शुभकामनाएं हमारी करें स्‍वीकार।।

     
  7. Udan Tashtari

    नवम्बर 6, 2010 at 1:49 पूर्वाह्न

    यहाँ भी है रौनक!!

    सुख औ’ समृद्धि आपके अंगना झिलमिलाएँ,
    दीपक अमन के चारों दिशाओं में जगमगाएँ
    खुशियाँ आपके द्वार पर आकर खुशी मनाएँ..
    दीपावली पर्व की आपको ढेरों मंगलकामनाएँ!

    -समीर लाल 'समीर'

     
  8. Ratan Singh Shekhawat

    नवम्बर 6, 2010 at 8:29 पूर्वाह्न

    दीप पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं

     
  9. सूर्यकान्त गुप्ता

    नवम्बर 6, 2010 at 9:03 पूर्वाह्न

    कभी खाली। घर मे हर दिन मने दिवाली लक्ष्मी का भण्डार हो न दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनायें।

     
  10. सूर्यकान्त गुप्ता

    नवम्बर 6, 2010 at 9:06 पूर्वाह्न

    कभी खाली। घर मे हर दिन मने दिवाली लक्ष्मी का भण्डार कभी हो न खाली दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनायें।

     
  11. सूर्यकान्त गुप्ता

    नवम्बर 6, 2010 at 9:10 पूर्वाह्न

    घर मे हर दिन मने दिवाली लक्ष्मी का भण्डार कभी हो न खाली दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनायें।

     
  12. गिरीश बिल्लोरे

    नवम्बर 6, 2010 at 11:29 पूर्वाह्न

    शुभकामनाएं
    _____________________________________
    बराक़ साहब का स्वागत
    _____________________________________

     
  13. संगीता स्वरुप ( गीत )

    नवम्बर 6, 2010 at 12:07 अपराह्न

    अच्छी जानकारी दी है …

     
  14. दीर्घतमा

    नवम्बर 7, 2010 at 6:42 अपराह्न

    बहुत सुन्दर धन की देवी भगवती-लक्ष्मी – क़ा परिचय विश्व को कराया भारतीयों ने —- दीपावली पर हार्दिक बधाई.

     

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: